ताजा खबरें

CG के अलग-अलग जिलों में चावल खरीदी में करोड़ों का गबन करने वाला आरोपी अमित गोयल दिल्ली से गिरफ्तार।

 

रायपुर: छत्तीसगढ़ में चावल खरीदी में करोड़ों की धोखाधड़ी करने वाले 3 चावल एक्सपोर्टर को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। तीनों आरोपियों के खिलाफ अलग-अलग थानों मंे शिकायत दर्ज है। रायपुर पुलिस ने इस मामले में आरोपी मुंबई निवासी ऋषभ मौर्या और अनिल मौर्य को गिरफ्तार किया है। वहीं दिल्ली निवासी अमित गोयल को स्थानीय पुलिस ने गिरफ्तार किया है।

 

दरअसल, अमित चावल उद्योग के संचालक राजेन्द्र अग्रवाल की शिकायत पर पुलिस ने मामला दर्ज किया था। मामले के दो आरोपी मुंबई निवासी ऋषभ मौर्या, अनिल मौर्य अग्रिम जमानत लेकर अपने वकीलों के साथ थाने पहुंचे थे। मामले में दोनों आरोपी तिल्दा में दर्ज मामले में तो बच गए लेकिन रायपुर के मोवा थाने में दर्ज मामले ने दोनों को जेल पहुंचा दिया। दिल्ली निवासी अमित गोयल को भी स्थानीय पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

 

क्या है पूरा मामला?

दरअसल मामला चावल खरीदी में लगभग 4.15 करोड़ रुपए गबन करने का है। मिल जानकारी के अनुसार, आरोपी करीब 13 करोड़ का गबन कर विदेश भागने की फिराक में थे। कोर्ट ने नोटिस जारी कर विदेश जाने पर प्रतिबंध लगाया था। मामले में दो आरोपी अग्रिम जमानत लेकर अपने वकीलों के साथ तिल्दा पहुंचे थे। यहां दोनों को मुचलके पर जमानत दी गई।

 

अलग-अलग थानों में शिकायत दर्ज

बता दें कि, कुछ महीने पूर्व तिल्दा के अमित चावल उद्योग के संचालक राजेन्द्र कुमार अग्रवाल ने थाने में धोखाधड़ी की शिकायत की थी। इसमें कहा गया था कि, महाराष्ट्र की चावल एक्सपोर्टर कंपनी किया एग्रो के संचालक अमित गोयल, ऋषभ मौर्या, अनिल मौर्य ने 4 करोड़ 14 लाख 78 हजार 34 रुपए की धोखाधड़ी की थी। लगातार पैसे मांगने के बाद भी रूपए नहीं देने का आरोप है। इसके बाद तीनों अभियुक्तों ने रायपुर सत्र न्यायालय से अग्रिम जमानत अर्जी ली थी। बताया गया कि 2 जून को अग्रिम जमानत दे दी गई थी, लेकिन तिल्दा थाना में उनको गिरफ्तारी देना था।

 

आरोपियों ने अपने तरफ से एक वकील साथ में लाया था। वकील ने बताया कि 9 करोड़ दिए हैं, बाकी के रुपए धीरे से दिया जाएगा। तब तक धैर्य बनाए रखने के लिए बोला गया था। अमित चावल उद्योग के वकील के अनुसार बार-बार आरोपियों के घर व दफ्तर के चक्कर काटने के बाद 9 करोड़ दिया गया और बाकी रुपए गबन करने की मंशा से जानबूझकर लटकाया गया है। अन्यथा अब तक पूर्ण भुगतान हो गया होता।

 

आरोपियों ने कोर्ट को धोखे में रखा कि विदेश की कंपनी ने पैसा नहीं दिया है, लेकिन बैंक स्टेटमेंट से सब साफ है कि इनका पैसा दुबई से आ गया है। फिर भी नियत खराब करके पैसा नहीं दिया जा रहा था। फिलहाल अग्रिम जमानत लेकर तिल्दा थाना पहुंचे दोनों आरोपी को मोवा पुलिस ने गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया है। यहां दोनों की जमानत खारिज कर 30 दिनों का रिमांड में जेल भेज दिया गया है।

 

 

मोवा थाने में भी आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज

इधर भगवती इंटरप्राइजेस के प्रोप्राइटर प्रशांत शर्मा ने मोवा थाने में किया एग्रो के संचालक अमित गोयल, ऋषभ मौर्या, अनिल मौर्य के खिलाफ धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज कराई है। इसमें उसने बताया है कि, इन आरोपियों ने धमतरी जिले के कई राईस मिलरों से चावल का सौदा किया और चावल पाने के बाद उसका भुगतान नहीं किया। प्रशांत शर्मा ने 2,55,40,469 रुपए के भुगतान नहीं करने का अरोप लगाया है।

 

पुलिस ने टीम बनाकर की कार्रवाई

इस पूरे मामले में एसएसपी आइपीएस प्रशांत अग्रवाल तथा एडीशनल एसपी, अभिषेक माहेश्वरी के दिशा निर्देश पर एक टीम बनाई गई जिसने मोवा थाना प्रभारी दीपक पासवान के नेतृत्व में कडी मेहनत की तथा मुख्य आरोपी अमित गोयल को नई दिल्ली से गिरफतार कर लिया।

VIDEO : एक्शन मोड में जशपुर पुलिस, खुद एसपी शशि मोहन सिंह सड़क पर उतरे, बस एजेंटो को गुंडागर्दी करने पर दी सख्त हिदायत, नहीं तो होगी कड़ी कार्यवाई,बेतरतीब वाहन खड़ा करने पर भी होगी सख्त कार्रवाई, साथ ही एसपी ने आम लोगों को सुरक्षा का दिलाया भरोसा,,,,,

Rashifal