ताजा खबरें

Breaking news : तीन लाख की सुपारी लेकर निर्मम हत्या, 8 आरोपियों को गिरफ्तार करने में पुलिस को मिली सफलता, आरोपियों ने गड़ा धन निकालने का झांसा देकर दिया था घटना को अंजाम, मुंगेली पुलिस की विशेष टीम किस तरह पहुंची हत्यारों तक पढ़िए पूरी खबर,,,,The Prime News

 

सुपारी लेकर दुर्दान्त तरीके से हत्या करने वाले आरोपियों को गिरफ्तार करने में मुंगेली पुलिस को सफलता मिली है,आरोपियों ने प्रायोजित तरीके से मृतक को गड़ा धन निकालने का झांसा देकर दोस्त बना लिया फिर घटना को जाम दिया, साथ ही हत्या करने के लिए 3 लाख रूपये की सुपारी भी दी, इस पूरे मामले में पुलिस में कुल 8 आरोपियों को गिरफ्तार किया है जिसमे दो सुपारी किलर उमेन्द्र एवं सत्येन्द्र पूर्व में हत्या कर चुके है, इस अँधे कत्ल की गुथी को सुलझाने के लिए पुलिस ने तीन टीमें बताई ओर घटना के बाद से केम्प लगा कर गाँव में लगातार सैकड़ों लोगो से पूछताछ की जिसमे मिले सबूतो के आधार पर पुलिस आरोपियों तक पहुंची,

शुक्रवार को एसपी कार्यालय मुंगेली में पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए बताया कि 21 मई को शाम लगभग 7 बजे देवरी भाठासार में एक अज्ञात लाश मिलने की सूचना पुलिस को मिली थी, घटना स्थल पहुँच पुलिस ने मर्ग कायम कर शव का पोस्टमार्टम करवाया था, पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु का प्रकार होमोसायडल पाया गया मामले में पुलिस ने हत्या की धारा 302 भादवि का अपराध पंजीबद्ध किया था, वही पुलिस ने मृतक की पहचान भुवेंद्र ऊर्फ पप्पू माथुर उम्र 28 वर्ष पिता संतोष माथुर के रूप में की थी साथ ही हत्या के अज्ञात आरोपियों की पता तलाश की गई जुटी थी,

 

पुलिस ने 4 विशेष टीम की थी गठित

मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने हत्या कांड के खुलासे से लिये 4 विशेष टीम गठित कर जांच शुरू की, पुलिस की इन चारों टीमों ने अलग-अलग पहलुओं पर जांच शुरू की जिसमें पहली टीम द्वारा ग्राम पंचायत देवरी में कैम्प लगाकर लोगों का कथन दर्ज कराया गया, दूसरी टीम द्वारा फिल्ड में सूचना संकलन करने, तीसरी टीम द्वारा विवेचना के महत्वपूर्ण बिन्दुओं पर काम करने तथा चौकी सायबर सेल के साथ तकनीकी विशलेषण में लगाई गई ।

 

यह था हत्या कारण

पुलिस की जांच में हत्या के मुख्य दो कारण निकल कर सामने आय जिसमें से पहला पूर्व में मृतक एवं उसके परिजनों द्वारा दुकाल माथुर के लड़के कोमल माथुर की हत्या की रंजिश तथा दूसरा जमीन में गड़े धन को निकालने का झांसा देना निकल कर सामने आया ,

इधर पुलिस की दूसरी टेक्निकल टीम और मुखबिर से मिले सूत्रों के आधार पर पुलिस को मुख्य आरोपी उपेंद्र के संबंध में
पता चला औऱ पुलिस ने सभी आरोपियों को पकड़ने में सफलता प्राप्त हुई ।

घटना को इस तरह दिया अंजाम

आरोपियों ने घटना को इस तरह से अंजाम दिया था, मृतक द्वारा अपने पुत्र कोमल की हत्या करने की पूर्व रंजिश को लेकर विद्वेष रखने वाले स्व. कोमल के पिता दुकाल और उसके पुत्र छत्रप्रकाश ने देवरी के ललित अनंत के माध्यम से ओड़ाडबरी निवासी उसके ससूर महेतरू से संपर्क किया और महेतरू ने गांव के पवन पात्रे, राहुल भास्कर, उमेन्द्र घृतलहरे एवं सतेन्द्र पात्रे के माध्यम से 03 लाख रूपये की सुपारी देकर मृतक की हत्या करायी । आरोपी पवन पात्रे , राहुल भास्कर, उमेन्द्र घृतलहरे एवं सत्येन्द्र पात्रे ने मृतक को बटुआ (गड़ा धन) निकालने का लालच देकर मृतक भुवेंद्र से अपना संपर्क बनाया और उसको अपने साथ घुमाना साथ में खाना खाना और दोस्ती किया और विश्वास जमने पर अपने साथ देवरी भाठाखार नहर के पास ले जाकर मृतक भूवेन्द्र माथुर की तार से और तब्बल से मारकर हत्या कर दी ।

जप्त सामग्री :-

(1) वायर 03 नग
(2) तब्बल 01 नग
(3) होण्डा एक्टिवा नंबर सीजी 09 जेजे 4117
(4) होण्डा एक्स ब्लेड नंबर सीजी सीजी 04 जेएच 8502
(5) रेडमी मोबाईल 01 नग

 

गिरफ्तार आरोपी :-

(1) उमेन्द्र पिता फागूराम घृतलहरे उम्र 35 वर्ष ग्राम ओड़ाडबरी थाना कुण्डा
(2) सतेन्द्र कुमार पात्रे पिता गौतम पात्रे उम्र 35 साल साकिन ओड़ाडबरी थाना कुण्डा जिला कवर्धा
(3) पवन कुमार पात्रे पिता गुरू प्रसाद पात्रे उम्र 24 वर्ष साकिन ओड़ाडबरी थाना कुण्डा जिला कवर्धा
(4) राहुल भास्कर पिता चंद्रप्रकाश भास्कर उम्र 18 साल साकिन ओड़ाडबरी थाना कुण्डा जिला कवर्धा
(5) महेतरू पिता दुलार सतनामी उम्र 75 साल साकिन ओड़ाडबरी थाना कुण्डा जिला कवर्धा
(6) ललित पिता नैनदास अनंत उम्र 53 साल साकिन ओड़ाडबरी थाना कुण्डा जिला कवर्धा
(7) छत्रप्रकाश पिता कोमल माथुर उम्र 23 साल साकिन देवरी थाना व जिला मुंगेली
(8) दुकाल पिता माधो माथुर उम्र 75 साल साकिन देवरी थाना व जिला मुंगेली

उपरोक्त आरोपियों को गिरफ्तार करने में सिटी कोतवाली पुलिस मुंगेली, साईबर सेल मुंगेली एवं गठित विशेष टीम का महत्वपूर्ण भूमिका रही ।

Rashifal