ताजा खबरें

रायपुर शहर सरकार का बजट : राजधानीवासियों के लिए क्या है खास।

रायपुर: रायपुर निगम का आज बजट पेश किया जा रहा है। महापौर एजाज ढेबर गोबर से पेंट किए हुए ब्रीफकेस के साथ निगम भवन पहुंचे। इस ब्रीफकेस में एक तरफ छत्तीसगढ़ महतारी तो दूसरी तरफ कामधेनु का चित्र अंकित था। यह चित्र शहरी गौठान में निर्मित गोबर पेंट से बनाया गया है।

 

 

 

 

मेयर एजाज ढेबर के निगम कार्यालय पहुंचने के बाद नगर निगम की सामान्य सभा शुरू हुई। सामान्‍य सभा की शुरुआत राष्ट्र गीत और राज्य गीत से हुआ। सभा में विधायक कुलदीप जुनेजा और सत्यनारायण शर्मा भी मौजूद हैं।

 

सामान्य सभा में विपक्ष ने काफी हंगामा किया। नगर निगम महापौर के बजट भाषण से पहले विपक्ष ने आसंदी के सामने विरोध प्रदर्शन किया। प्रधानमंत्री आवास योजना के मुद्दे और फर्जी टेंडर जारी करने के मामले में भी हंगामा बरपा। इस हंगामे की वजह से सभापति ने सामान्य सभा 10 मिनट के लिए स्थगित कर दी।

 

बजट पेश करने से पहले महापौर एजाज ढेबर ने काली माता का लिया आशीर्वाद

महापौर एजाज़ ढेबर ने वित्तीय वर्ष 2023-24 का बजट पेश किया, चौदह करोड़ के इस बजट से पहले महापौर ढेबर में आकाशवाणी चौक स्थित काली मंदिर में बजट का सूटकेस लेकर पूजा अर्चना की। इस मौके पर महापौर ने बताया शहर के सभी वर्गी का बजट है शिक्षा औरस्वास्थ्य पर विशेष ध्यान दिया गया है। बजट से पहले प्रश्नकाल हुआ, नगर निगम की सामान्य सभा की बैठक में पार्षद मृत्युंजय दुबे ने फर्जी तरीके से टेंडर जारी करने का मामला उठाया। मृत्युंजय दुबे ने रावतपुरा फेस 2 में दो करोड़ के फर्जी भुगतान का मुद्दा उठाया।

 

 

उन्होंने एक ही ठेकेदार को बार बार टेंडर देकर लाभ पहुंचाने का आरोप लगाया है। मृत्युंजय दुबे ने कहा कि ठेकेदार को अब तक 6 करोड़ रुपये का भुगतान कर दिया गया है। फर्जी टेंडर मामले में पार्षद मृत्युंजय दुबे ने महापौर और नगर निगम एमआईसी पर नामजद एफआईआर करने की चेतावनी दी है। वहीँ इस दौरान मोर आवास, ईडी, अडानी, सीबीआई के मुद्दे पर पक्ष-विपक्ष के बीच गहमा वहमी होती रही। बीजेपी के हंगामें के बाद सभापति सदन से बाहर निकलें वहीँ दूसरे तरफ विपक्ष नारेबाजी करते रहे।

Rashifal