ताजा खबरें

अस्पताल में तंत्र मंत्र से करवाने लगे झाड़-फूंक! अंधविश्वास के चलते हुई इलाज में देरी, चली गई युवती की जान।

खरगौन: मेडिकल साइंस ने काफी तरक्की कर ली है. लेकिन,मध्य-प्रदेश के खरगोन इसका कुछ उल्टा ही नजारा देखने को मिला दरअसल एक 17 साल की लड़की को सांप ने डस लिया. इसके बाद परिजन उसे लेकर सरकारी अस्पताल पहुंचे. इस दौरान वे अस्पताल में दो घंटे तक झाड़-फूंक कराते रहे. झाड़-फूंक करने वाले ओझा को रोकने की बजाय डॉक्टर और अस्पताल के कर्मचारी मूकदर्शक बने रहे. हालत बिगड़ने पर लड़की को रेफर कर दिया. रास्ते में उसकी मौत हो गई.

खरगौन के एक अस्पताल में सर्पदंश से पीड़ित युवती को इलाज के लिए भर्ती कराया गया था. डॉक्टर इलाज भी कर रहे थे, तभी मरीज के परिजन अस्पताल में झाड़-फूंक करने वाले एक तांत्रिक को बुला लाए. फिर अस्पताल में ही युवती की झाड़-फूंक होने लगी. इस बीच, युवती की तबीयत सही होने की बजाए बिगड़ने लगी. वहीं, अस्पताल प्रशासन का कहना है कि इलाज कराने के बजाए युवती के परिजन उसे अस्पताल से ले जाने की मांग करने लगे थे.

झाड़-फूंक का वीडियो आया सामने।

इसका एक वीडियो भी सामने आया है. वीडियो में दिख रहा है कि युवती अस्पताल के बेड पर लेटी हुई है. वहीं, उसके पास दो लोग मौजूद हैं. उनमें से एक शख्स के हाथ में शायद किसी पेड़ की पत्तियां हैं. वह इनकी मदद से झाड़-फूंक करता हुआ दिख रहा है. 57 सेकंड के इस वीडियो को न्यूज एजेंसी एएनआई ने अपने ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया है.

CMHO ने अस्पताल में घटना की पुष्टि की
वहीं, वायरल हो रहे इस वीडियो पर स्वास्थ्य विभाग के अफसर ने टिप्पणी की है. मुख्य चिकित्सा स्वास्थ्य अधिकारी (CMHO) ने माना है कि अस्पताल में मरीज की झाड़-फूंक हुई है. यह पूरा मामला खरगोन में झिरन्या के शासकीय अस्पताल का है.

Rashifal