ताजा खबरें

सरकारी एम्बुलेंस ने बाइक सवार पति-पत्नी को मारी ठोकर दोनों की मौत ट्रैफिक जवान बाल-बाल बचा।

 

कोटा: राजस्थान के कोटा से बड़ी खबर सामने आ रही है, जहां सरकारी एम्बुलेंस के ड्राइवर ने बाइक सवार एक दंपत्ति को ठोकर मार दी है। इस हादसे में पति-पत्नी की मौत हो गई है। वहीं इसी एम्बुलेंस की ठोकर से दादी और पोता बुरी तरह जख्मी हो गए हैं, जिन्हें उपचार के लिए अस्पताल दाखिल किया गया है। इससे पहले एम्बुलेंस ड्रायवर ने टैªफिक जवान को भी कुचलने का प्रयास किया था, लेकिन किसी तरह जवान बच गया, जिसके बाद अगले सिग्नल पर पहुंचने से पहले यह हादसा हुआ है।

 

घटना कोटा के गुमानपुरा फ्लाई ओवर पर गुरुवार सुबह 11.30 बजे की बताई जा रही है। इस मामले को लेकर CMHO डॉ. जगदीश सोनी ने बताया कि शहर में धार देवी और यूआईटी ऑडिटोरियम में दो एंबुलेंस जानी थी। हादसे से कुछ समय पहले ही कंट्रोल रूम पर बात हुई थी। यूआईटी ऑडिटोरियम में सुरेंद्र को एंबुलेंस ले जानी थी। स्टाफ ने जब बताया कि वह नशे में है तो उसे मना कर दिया और किसी दूसरे ड्राइवर को भेजने को कहा।

 

सुरेंद्र नहीं माना और एंबुलेंस ले गया। गुमानपुरा फ्लाई ओवर पर चढ़ने के बाद सुरेंद्र में स्पीड बढ़ा ली और यहीं पर गाड़ी बेकाबू हो गई। इसी दौरान फ्लाई ओवर पर अनकंट्रोल होने के बाद एंबुलेंस डिवाइडर को पार कर दूसरी तरफ चली गई।

 

इसी दौरान एरोड्राम से नयापुरा की तरफ बाइक पर आ रहे बूंदी जिले के कापरेन निवासी पवन, उसकी पत्नी मनभर, मां सुरजा और बच्चे नकसू को टक्कर मार दी। टक्कर इतनी तेज थी कि बाइक सवार महिला मनभर फ्लाई ओवर से उछलकर 15 फीट नीचे जा गिरी और उसकी मौत हो गई। वहीं पवन, उसकी मां और बेटा गंभीर घायल हो गए। तीनों को पुलिस ने हॉस्पिटल पहुंचाया। जहां इलाज के दौरान पवन ने भी दम तोड़ दिया।

VIDEO : एक्शन मोड में जशपुर पुलिस, खुद एसपी शशि मोहन सिंह सड़क पर उतरे, बस एजेंटो को गुंडागर्दी करने पर दी सख्त हिदायत, नहीं तो होगी कड़ी कार्यवाई,बेतरतीब वाहन खड़ा करने पर भी होगी सख्त कार्रवाई, साथ ही एसपी ने आम लोगों को सुरक्षा का दिलाया भरोसा,,,,,

Breaking News : बुजुर्ग की हत्या करने के आरोपी बस एजेंट गोविन्द प्रधान उर्फ भोला को चंद घंटे में सिटी कोतवाली ने किया गिरफ्तार,चश्मा को निकाल देने जैसे मामूली सी बात पर एजेंट ने मारा था झापड़,घायल बुजुर्ग की इलाज के दौरान हुई थी मौत,,,,

Rashifal