ताजा खबरें

गुरूजी ने सुनी नागमणि की कहानी और गवां बैठे 15 लाख रुपए।

गौरेला: पुलिस ने नागमणि का झांसा देकर 15 लाख की ठगी करने वाले गिरोह के एक सदस्य को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने आरोपी के पास से तीन लाख पन्द्रह हजार पांच सौ रुपए बरामद किया है। वही चार आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। आरोपियों ने करीब एक महीना पहले रिटायर्ड व्यक्ति को टावर लगवाने और नागमणि बेचने के नाम पर ठगा था।

ऐसे दिया झांसा
पुलिस ने बताया कि आरोपीगण जो कि आपस में रिश्तेदार हैं सभी ने मिलकर टावर लगाने के नाम पर रिटायर्ड व्यक्ति को टारगेट किया और उससे ठगी करने की योजना बनाई। सबसे पहले प्रार्थी के पास अपने एजेंट राजू साहू और संजय कुमार रवि, भोले उर्फ राजकुमार सूर्यवंशी को भेजा। चार टावर लगाने के लिए दो डिसमिल जमीन का एग्रीमेंट कराने के लिए राजी किया गया। जिसमे आरोपियों ने प्रार्थी रिटायर्ड टीचर हरिप्रसाद कश्यप के साथ टावर के लिए प्रतिमाह ग्यारह हजार रुपए देने का एग्रीमेंट कराया गया। इसी बीच योजना के तहत गिरोह का एक व्यक्ति आता है और बताता है कि उसकी मा करील तोड़ने जंगल गई थी जहां उसे नागमणि मिली हैं, जिसकी मार्केट वैल्यू 1 करोड़ रुपए है, जिसको उससे 30 लाख रुपए में बेचने की बात करते हुए प्रार्थी को नागमणि दिखाकर उससे 30 लाख रुपए में इस प्रकार का सौदा किया।

Rashifal