ताजा खबरें

कलयुगी पति पत्नी ने मिलकर रचा अपनी ही 10 वर्षीय बेटी की कत्ल की साजिश।

 

यह कैसे मां-बाप है जिन्होंने अपने कलेजे के टुकड़े की गला दबाकर हत्या कर दी। कहते हैं बेटी देवी का रूप होती है बेटी लक्ष्मी है दुर्गा है लेकिन आजकल कुछ कलयुग में ऐसे भी मां-बाप है जो बेटी को बोझ समझते हैं ।

 

पुरा मामला पुलिस सहायता केंद्र निपनिया थाना भाटापारा ग्रामीण पुलिस के द्वारा अपनी पुत्री की हत्या करने वाले दंपत्ति को गिरफतार पुत्री किया गया है।इन्होंने अपनी पुत्री की हत्या कर तालाब में फेंक दिया था । ओर आरोपीयो के द्वारा हत्या को तालाब में डूबने से हुई मौत का रूप देने की रची गई थी ।

 

पुलिस मर्ग जांच पंचनामा कार्यवाही एवं पोस्टमार्टम रिपोर्ट से जघन्य हत्याकांड का पर्दाफाश किया है।

अपनी दूसरी पत्नी के उकसावे एवं भडकाने पर आरोपी द्वारा अपनी सगी पुत्री की कर दी गई हत्या

पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार झा द्वारा गंभीर अपराध के त्वारित निकाल करने हेतु निर्देश दिये गये थे, अपनी सगी पुत्री की हत्या के आरोपी पति-पत्नी 01 नीलमचंद वर्मा पिता हीरालाल वर्मा उम्र 38 वर्ष 02 श्रीमति प्रीति वर्मा पति नीलमचंद वर्मा उम्र 30 वर्ष दोनों निवासी ग्राम कोदवा थाना भाटापारा ग्रामीण को गिरफ्तार कर न्यायिक रिमांड पर भेजा गया है।

 

सूचक ने ग्राम कोदवा थाना भाटापारा ग्रामीण का पुलिस सहायता केन्द्र निपनिया आकर जुबानी रिपोर्ट दर्ज कराया कि कु. मोक्ष वर्मा पिता नीलमचंद वर्मा उम्र 10 वर्ष साकिन कोदवा थाना भाटापारा ग्रामीण की तालाब पानी मे नहाते समय डूबने से मृत्यू हो गई है, कि रिपोर्ट पर धारा 174 जाफौ के तहत मर्ग कायम कर जांच पंचनामा कार्यवाही मे लिया गया।

 

मृतिका की शव पंचनामा कार्यवाही के दौरान मृतिका के गले मे चोट के निशान पाया गयि था, जिसे गवाहो/पंचो ने भी देखकर हत्या होने का संदेह व्यक्त किया है। बाद पंचनामा कार्यवाही के मृतिका के शव को सीएचसी भाटापारा भेजकर पीएम कराया गया। पोस्टमार्डम रिपोर्ट मे डा. तौसिफ खान ने भी मृतिका की मृत्यू गला दबाने से स्वास गति अवरूद्ध होने से होना लेख किये है, तथा मृत्यू की प्रकृति हत्या होना लेख किये है, जो धारा 302, 201 भादवि का घटित होना पाये जाने से अज्ञात आरोपी के विरूद्ध अपराध क्र. 166/2023 धारा 302,201 भादवि कायम कर विवेचना मे लिया गया।

 

दौरान विवेचना गवाहो के कथन के आधार पर पता चला की जबसे आरोपी नीलमचंद, प्रीति को चूडी पहना कर पत्नी बनाकर रखा तब से बच्चो को लेकर पति-पत्नी के मध्य अक्सर विवाद होता रहता था जिससे के0के0 वार्ड भाटापारा व ग्राम कोदवा के ग्रामीणों द्वारा भी बाल-बच्चो को देख जान कर आई हो कहकर आरोपी पत्नी प्रीति को कई बार समझाये थे।

 

किंतु आरोपिया प्रीति वर्मा अपने पति को जब तक अपनी लडकी मोक्ष ऊर्फ मोना को रास्ते से नही हटाओगे तब तक मै आपके साथ नही रहूंगी बोलने पर आरोपी दिनांक 23-022023 के रात्रि अपनी बच्ची का कपडे से गला घोटने का प्रयास किया। लडकी के बेहोस हो जाने मर गई समझ कर उसे छोड दिया, कि सुबह देखा तो लडकी मोक्षू जिंदा थी, और स्कुल चली गई।

 

स्कूल में टीचर के द्वारा घरवालों को बताया गया कि मोक्ष का तबीयत खराब है, उसे घर ले जाओ बोलने पर अपने साथ घर ले गया और नहलाने के बहाने गांव के सती तलाब ले जाकर पून: गला घोटकर हत्या कर पानी मे डुबा दिया और लडकी के डूब जाने का हल्ला करने लगा।

 

इसके बाद लडकी को तालाब से निकाल कर ग्रामीणो कि मदद से घर लेकर आ गया। कि प्रकरण में पुलिस द्वारा आरोपी पति पत्नी को विधिवत गिरफ्तार कर माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया जा रहा है।

Rashifal