ताजा खबरें

सट्टा बुकी अनिल जयसिंघानी गिरफ्तार,अमृता फडणवीस को ब्लैकमेल करने के मामलें में गिरफ्तारी।

 

मुंबई: मुंबई पुलिस ने अनिल जयसिंघानी की बेटी अनिक्षा को महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की पत्नी को कथित रूप से ब्लैकमेल करने और रिश्वत देने के आरोप में गिरफ्तार किए जाने के कुछ दिनों बाद सोमवार को गुजरात से संदिग्ध सट्टेबाज अनिल जयसिंघानी को भी गिरफ्तार किया है। क्राइम ब्रांच के एक अधिकारी ने पीटीआई से पुष्टि की कि अनिल जयसिंघानी, जिनके खिलाफ 14 से 15 मामले लंबित हैं, को गुजरात से पकड़ा गया था, लेकिन विवरण देने से इनकार कर दिया।

 

महाराष्ट्र पुलिस ने बुकी अनिल जयसिंघानी को गुजरात के गोधरा बॉर्डर से अरेस्ट किया है. वो देश का टॉप बुकी है और वो लंबे समय से फरार था. कहा जाता है कि उसके अंडरवर्ल्ड से कनेक्शन भी हैं. उसके खिलाफ 17 केस दर्ज हैं। इसके साथ ही अनिल के एक ड्राइवर और एक रिश्तेदार को हिरासत में भी लिया गया है. आरोप है कि ये दोनों उसकी मदद कर रहे थे. आरोप है कि अनिल को इन मामलों में छुड़ाने के लिए साजिश के तहत उसकी बेटी अनिक्षा ने डिजॉयनर बनकर अमृता फडणवीस से दोस्ती की थी. फिर धमकी और ब्लैकमेल किया.

 

अनिल की गिरफ्तारी के लिए ऑपरेशन AJ लॉन्च किया गया था. इसमें 5 टीमें बनाई गई थीं. आरोपी लगातार पुलिस को चकमा दे रहा था. इसी दौरान पता चला कि वो गुजरात के बारबोली गांव में है. इस पर तीन टीमें गुजरात पहुंचीं. मगर, आरोपी वहां से भागकर सूरत चला गया. इसी तरह वो लुकाछिपी का खेल खेलते हुए भरूच, वडोदरा के बाद गोधरा पहुंचा, यहां पुलिस ने उसे धर दबोचा. DCP साइबर सेल के मुताबिक, आरोपी अनिल जयसिंघानी को अरेस्ट कर लिया गया है. अमृता फडणवीस के मामले में मालाबार हिल पुलिस जांच करेगी. बता दें कि महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस की पत्नी अमृता फडणवीस ने बीते दिनों एक डिजाइनर पर गंभीर आरोप लगाते हुए मुंबई के मालाबार हिल पुलिस स्टेशन में केस दर्ज कराया था. अमृता की शिकायत के आधार पर, पुलिस ने 2 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू की. अमृता ने आरोप कि अनिक्षा नाम की एक महिला डिजाइनर ने उन्हें धमकी दी, साजिश रची और 1 करोड़ की रिश्वत की पेशकश की. अनिक्षा करीब 16 महीने से अमृता के संपर्क में थी.

 

अनिल जयसिंघानी कल्याण से अपना कारोबार ऑपरेट करता है, जिसका कनेक्शन ठाणे में सट्टा ऑपरेट करने वाले अनिल आलू से भी बताया जा रहा है, जिसने राजधानी के कटोरा तालाब गली नंबर 5 से सट्टा का कारोबार शुरू किया था। बाद में वो मुंबई शिफ्ट हो गए और ठाणे से अपना कारोबार संचालित करने लगा। रायपुर में आज भी सट्टा बाजार में उसकी बड़ी दखल है और उसके गुर्गे यहा सट्टा ऑपरेट कर रहे है।

Rashifal