ताजा खबरें

प्रदेशभर की स्टाफ नर्स राजधानी की सड़कों पर उतरी, निकाली वादा निभाओ रैली।

रायपुर: प्रदेश के तमाम मेडिकल कॉलेजों में कार्यरत नर्स अपनी 4 सूत्रीय मांगों को लेकर अब सड़कों पर उतर आई हैं। रायपुर के मेकाहारा हॉस्पिटल से जेल रोड तक नर्सों ने वादा निभाओ रैली निकाली। इसमें रायपुर के अलावा महासमुंद, राजनांदगांव और महासमुंद की नर्स भी शामिल हुईं।

 

नर्सेस ऑफ़ियर्स एसोसिएशन के बैनर तले निकाली गई रैली में शामिल हुईं नर्सों की मांग ग्रेड पे बढ़ातरी, स्टॉफ में बढ़ोतरी, नर्सिंग ऑफिसर पदनाम – जिसमें कोई वित्तीय भार न हो, औऱ नर्सिंग भत्ता है। मांग पूरी न होने पर 15 मार्च से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की चेतवानी दी है। रैली में शामिल होने के लिए शासन से सिर्फ 100 नर्सों को ही अनुमति मिली थी, जिसकी वजह से केवल 100 नर्सें ही रैली में शामिल हुईं।

 

संघ की प्रांताध्यक्ष रीना राजपूत ने कहा कि हमारी मुख्य ग्रेड पे में बढ़ोतरी है। शासन ने 2018 में कमेटी बनाई थी, जिसकी अनुशंसा अभी तक लागू नहीं हुई है। मुख्यमंत्री ने खुद वादा किया था, आश्वासन दिया था। इसके अलावा सबसे ज्यादा दिक्कत स्टाफ शॉर्टेज की है, जिसके कारण मरीजों को परेशानी हो रही है। नर्स वंदना सेमुअल ने कहा कि मांगों को लेकर शासन की ओर से पहल नहीं होने पर 15 मार्च के बाद अनिश्चितकालीन हड़ताल में जाने की घोषणा करेंगे। 2018 में हमने ऐतिहासिक आंदोलन किया था। जेल जाकर भी हमने कई प्रताड़नाएं सही थी। भूपेश बघेल ने हमसे वादा किया था, उनका शासन आएगा तो हमारी मांगों को प्रमुखता से रखेंगे, लेकिन 4 वर्ष पूर्ण हो चुके हैं, उनकी तरफ से किसी भी तरह से कोई भी पहल नहीं की गई है।

Rashifal