Arabic Arabic Bengali Bengali English English Gujarati Gujarati Hindi Hindi Kannada Kannada Malayalam Malayalam Punjabi Punjabi Tamil Tamil Telugu Telugu
Arabic Arabic Bengali Bengali English English Gujarati Gujarati Hindi Hindi Kannada Kannada Malayalam Malayalam Punjabi Punjabi Tamil Tamil Telugu Telugu
Breaking News
संसदीय सचिव यू. डी. मिंज ने प्रदेशवासियों को छत्तीसगढ़ी राजभाषा दिवस की दी बधाईयातायात पुलिस की कार्यवाही,यातायात नियमों का उलंघन करने वाले 38 वाहनों से 11 हजार से अधिक का समन शुल्क वसूला।पुलिस अधीक्षक ने ली क्राइम मीटिंग, लंबित अपराधों, मर्ग एवं शिकायतों का शीघ्र निराकरण करने के दिये निर्देश, गुमसुदा की दस्तयाबी हेतु 10 विशेष टीम का किया गठनजमीन रजिस्ट्री कराने के नाम से धोखाधड़ी, प्रार्थी को बिना बताये बनाया गारेन्टर,आरोपियों ने प्रार्थी का दस्तावेज गारंटर में जमा कर बैंक से लोन निकालकर दिया घटना को अंजामदूल्हा-दुल्हन ने 80 फीट की ऊंचाई पर पहनाई एक-दूसरे को वरमाला।धमतरी के केरेगांव थाने में तैनात सिपाही की सपत्नी दुर्घटना में मौत।अगवा कर 6 साल के मासूम की हत्या, मारकर घर से 100 मीटर दूर दफनाया।अरुण साव के जन्मदिन पर दिव्यांग को ट्रायसिकल व स्वेटर का वितरण किया।गांजा तस्करी करने वाले 2 आरोपी को गिरफ्तार करने में मिली पुलिस को सफलता,आरोपी के कब्जे से गांजा सहित मोटरसाइकिल जप्त।CRIME NEWS : दहेज के लोभी पति, सास व ससुर गिरफ्तार,आरोपियों के खिलाफ एक महिने पहले पुलिस ने किया था मामला दर्ज।

टू-फिंगर टेस्ट’ को सुप्रीम कोर्ट ने बताया अवैज्ञानिक।

द प्राइम न्यूज में छत्तीसगढ़ एवं अन्य राज्यों जिले जनपद में संवाददाताओं की आवश्यकता है इच्छुक सम्पर्क करें,

दिल्ली: रेप और यौन हिंसा के मामलों की जांच के लिए होने वाले ‘टू-फिंगर टेस्ट’ को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने बड़ा फैसला सुनाया है. कोर्ट ने इसे ‘अवैज्ञानिक’ बताया है. साथ ही ये भी कहा है कि पीड़िताओं का टू-फिंगर टेस्ट करना उन्हें फिर से प्रताड़ित करना है. अदालत ने मेडिकल की पढ़ाई से भी टू-फिंगर टेस्ट हटाने को कहा है. जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ और जस्टिस हिमा कोहली की बेंच ने ये फैसला झारखंड सरकार की याचिका पर सुनाया है. झारखंड हाईकोर्ट ने रेप और मर्डर के आरोपी शैलेंद्र कुमार राय उर्फ पांडव राय को बरी कर दिया था. झारखंड सरकार ने हाईकोर्ट के इस फैसले को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी. सुप्रीम कोर्ट ने हाईकोर्ट के फैसले को पलटते हुए शैलेंद्र राय को दोषी ठहराते हुए उसे उम्रकैद की सजा सुनाई है. सुप्रीम कोर्ट ने ये भी कहा कि ये धारणा गलत है कि सेक्सुअली एक्टिव महिला के साथ रेप नहीं हो सकता. अदालत ने टू-फिंगर टेस्ट पर फिर से रोक लगा दी और चेतावनी दी कि अगर कोई ऐसा करता है तो उसे दोषी ठहराया जाएगा. – टू-फिंगर टेस्ट में पीड़िता के प्राइवेट पार्ट में दो उंगलियां डाली जाती हैं. इससे डॉक्टर ये पता लगाने की कोशिश करते हैं कि पीड़िता सेक्सुअली एक्टिव है या नहीं. – इस टेस्ट के जरिए प्राइवेट पार्ट के बाहर एक पतली झिल्ली को जांचा जाता है, जिसे हाइमन कहते हैं. अगर हाइमन होता है तो पता चलता है कि महिला सेक्सुअली एक्टिव नहीं है. लेकिन हाइमन को नुकसान पहुंचा होता है तो इससे महिला के सेक्सुअली एक्टिव होने की बात सामने आती है. – हालांकि, ये धारणा पूरी तरह सही नहीं है. मेडिकल साइंस में भी ऐसा सामने आ चुका है कि खेलकूद और दूसरे कारणों से भी हाइमन को नुकसान पहुंच सकता है. – टू-फिंगर टेस्ट पर सुप्रीम कोर्ट ने 2013 में ही रोक लगा दी थी. लेकिन उसके बावजूद ये होता रहा है. झारखंड में शैलेंद्र कुमार राय के मामले में भी हाईकोर्ट ने टू-फिंगर टेस्ट के आधार पर ही उसे बरी कर दिया।

Rashifal