ताजा खबरें

पुलिस अधीक्षक कार्यालय में iRAD एप के संबंध में कार्यशाला का शुभारंभ, जिले के थाना प्रभारी एवं विवेचक कार्यशाला में हुए सम्मिलित

 

भारत सरकार द्वारा सड़क दुर्घटनाओं का डाटा एकत्रित करने के लिये iRAD एप बनाया गया है। जिसमें सभी सड़क दुर्घटनाजन्य क्षेत्रों का फोटो एवं वीडियो के साथ जानकारी दर्ज किया जाता है, जैसे दुर्घटना कहां हुई, कब हुई, कैसे हुई, दुर्घटना किन-किन के बीच हुई, किस-किस को चोट आई, दुर्घटना में घायलों का क्या ईलाज हुआ आदि। इसका मुख्य उद्येश्य दुर्घटनाजन्य क्षेत्रों को चिन्हांकित कर एक्सीडेंट के कारणों का पता लगाना एवं उनका निराकरण करना है।

 

पुलिस अधीक्षक कार्यालय के संवाद सभाकक्ष iRAD एप के संबंध में जिले के थाना प्रभारियों एवं विवेचकों के लिए 02 दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया है, जिसका शुभारंभ दिनांक 13. फरवरी 2023 को किया गया। कार्यशाला में एन.आई.सी. मुंगेली के डिस्ट्रिक्ट रोलआउट ऑफिसर परिमलदास द्वारा प्रशिक्षण दिया गया, जिसमें परिमलदास द्वारा बताया गया कि प्रत्येक थाना प्रभारी या विवेचक का एप में पृथक से आईडी एवं पासवर्ड बनाया जायेगा, जिसमें लॉगइन कर अपने क्षेत्र के दुर्घटना की जानकारी को फोटो एवं वीडियो के साथ एंट्री कर परिवहन एवं राष्ट्रीय/राज्यमार्ग विभाग एवं चिकित्‍सा को रिक्वेस्ट प्रोसेस भेजने एवं एप के संचालन के संबंध में जानकारी दी गई साथ ही इस एप में विवचकों के द्वारा जिस दुर्घटना की जानकारी पूरी तरह एंट्री नहीं की गई है अथवा पूर्ण की गई एंट्री की सूची अलग-अलग दिखाई देने के संबंध में बताया गया। Irad app में दुर्घटना का रजिस्ट्रेशन एवम डाटा एंट्री हेतु महत्पूर्ण फॉर्म को भरना सभी विवेचको को सिखाया गया ।

 

इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रतिभा पाण्डेय, उप पुलिस अधीक्षक मुख्यालय साधना सिंह, निरीक्षक सतीश सिंह,गौरव पाण्डेय, केसर पराग ,प्रमोद डनसेना एवं अन्य थाना प्रभारी तथा विवेचकगण सम्मिलित हुए।

Rashifal